Home Himachal Pradesh अब हिमाचल में पेंशनरों के लिए वेतन कटौती सरकारी कर्मचारी hpvk के...

अब हिमाचल में पेंशनरों के लिए वेतन कटौती सरकारी कर्मचारी hpvk के बाद

156
0

हिमाचल में सैलरी में कटौती.

हिमाचल में सैलरी में कटौती.

Salary Deduction in Himachal Govt Employee: बीते बुधवार को हिमाचल सरकार ने ऐलान किया था कि कि प्रदेश के सरकारी अफसरों, निगमों-बोर्डों के अधिकारियों की दो दिन की पगार कटेगी. इनमें क्लास 1 और क्लास 2 अधिकारी शामिल हैं. वहीं, तृतीय और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की एक दिन की तनख्वाह कोविड फंड में जमा होगी.

शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में अधिकारियों और कर्मचारियों के वेतन (Salary) कटौती के आदेश के बाद अब पेंशनरों की भी एक दिन की पेंशन कटेगी. दिलचस्प बात यह है कि यह आदेश कार्मिक विभाग के बजाय स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी की ओर से जारी किए गए हैं. सभी पेंशनरों और फैमिली पेंशनरों की बेसिक पेंशन से यह कटौती होगी और यह कोविड फंड में जमा होगी. सभी पेंशनरों की पेंशन काटकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की राज्य सचिवालय शाखा और एचडीएफसी बैंक छोटा शिमला (Shimla) के बैंक खातों में जमा करने के आदेश जारी किए गए हैं.

कर्मचारियों को लेकर दिए गए थे आदेश
बीते बुधवार को हिमाचल सरकार ने ऐलान किया था कि कि प्रदेश के सरकारी अफसरों, निगमों-बोर्डों के अधिकारियों की दो दिन की पगार कटेगी. इनमें क्लास 1 और क्लास 2 अधिकारी शामिल हैं. वहीं, तृतीय और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की एक दिन की तनख्वाह कोविड फंड में जमा होगी. इसके बाद किरकिरी हुई तो सरकार ने ऐलान किया कि कैबिनेट मंत्री एक महीने का वेतन कोविड फंड में देंगे. वहीं, विधायकों का भी दो दिन का वेतन फंड में जाएगा.

क्या बोले सीएमकिरकिरी के बाद घंटों बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बुधवार को कहा था कि वह खुद और उनके मंत्रिमंडल के सदस्य सीएम कोविड फंड में एक महीन का वेतन देंगे. गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों ने चेक मुख्यमंत्री को भेंट किए हैं. गौरतलब है कि बीते एक साल पहले जब कोरोना फैला था तो सरकार ने तय किया था कि मंत्री और विधायकों के वेतन में 30 फीसदी की कटौती होगी. बजट में मार्च में विधायकों के पूरे वेतन को बहाल कर दिया गया था.




Previous articleहिमाचल में भारी बर्फबारी और हिमाचल प्रदेश में बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया
Next articleपृथ्वीगढ़ समाचार: पटोरागढ़ में बेस डिस्ट्रिक्ट बेस हॉस्पिटल 17 साल बाद भी नहीं बन सका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here