Home Sports आईपीएल में अगले सीजन से 74 मैच, बीसीसीआई को 5 हजार करोड़...

आईपीएल में अगले सीजन से 74 मैच, बीसीसीआई को 5 हजार करोड़ रुपए का फायदा/IPL 2022 ipl likely to adopt 74 match format from 2022 on expansion to 10 teams– News18 Hindi

216
0

नई दिल्ली. आईपीएल 2022 (IPL 2022) के लिए बीसीसीआई (BCCI) बड़ी तैयारी कर रहा है. अगले सीजन से दो नई टीमों को शामिल किया जाना है. इसका टेंडर जल्द निकलने वाला है. लेकिन टीम के बढ़ने से टूर्नामेंट के फॉर्मेट को बदला जाएगा. मौजूदा आईपीएल सीजन को 4 मई को कोरोना केस आने के बाद स्थगित कर दिया गया था. 60 में से बचे 31 मैच सितंबर-अक्टूबर में यूएई में होने हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार, 2022 से राउंड रॉबिन के आधार पर टूर्नामेंट नहीं कराया जाएगा. जानकारी के अनुसार, 10 टीमों को 5-5 टीम के दो ग्रुप में बांटा जाएगा. हर टीम को 8 लीग मैच खेलने होंगे. 4 घर पर और 4 घर के बाहर. इस तरह से कुल 74 मैच का आयोजन किया जाएगा. वर्तमान समय में कुल 60 मैच होते हैं. यानी 14 मैच बढ़ जाएंगे. अगर पहले की तरह राउंड रॉबिन की तर्ज पर लीग का आयोजन होता है तो कुल मैच की संख्या 94 हो जाती. ऐसे में बोर्ड को बड़ी विंडो की जरूरत होती. आईसीसी भी हर साल एक बड़ा इवेंट कराने जा रहा है. ऐसे में विदेशी खिलाड़ियों की उपलब्धता परेशानी वाली हो सकती थी.

बोर्ड को मैच से 800 करोड़ रुपए मिलेंगे

बीसीसीआई को हर सीजन में 14 मैच बढ़ने से लगभग 800 करोड़ रुपए की अतिरिक्त आय होगी. इसके अलावा दो नई टीमों से लगभग 4 हजार करोड़ मिलने हैं. एक टीम से लगभग 2 हजार करोड़ रुपए. इस तरह से बीसीसीआई को लगभग 5 हजार करोड़ मिलने जा रहे हैं. अगले सीजन से पहले बीसीसीआई टी20 लीग के मीडिया राइट्स का फिर से टेंडर निकालेगा. ऐसे में हर मैच से हाेने वाली आमदनी में और बढ़ोतरी की संभावना है.

दिसंबर में होगा मेगा ऑक्शन

बीसीसीआई दिसंबर में आईपीएल का मेगा ऑक्शन कर सकता है. यानी नए सिरे से खिलाड़ियों की नीलामी की जाएगी. हालांकि सभी टीमें 4 खिलाड़ियों को रिटेन कर सकेंगी. इसके लिए शर्त रखी गई है. रिटेन किए जाने वाले खिलाड़ियों में तीन देशी, एक विदेशी या दो देशी, दो विदेशी खिलाड़ी होना जरूरी है. मुंबई इंडियंस ने सबसे ज्यादा 5 बार आईपीएल का खिताब जीता है.

यह भी पढ़ें: IND vs ENG: टीम इंडिया का बड़ा विवाद आया सामने, चीफ सेलेक्टर पृथ्वी शॉ और पडिक्कल के खिलाफ!

फ्रेंचाइजी अब अधिक पैसे खर्च कर सकेंगी

बीसीसीआई ऑक्शन के दौरान टीमों के सैलरी पर्स यानी ऑक्शन में खर्च की जाने वाली राशि में बढ़ोतरी करेगा. पहले एक फ्रेंचाइजी अधिकतम 85 करोड़ रुपए खर्च कर सकती थीं. इसे बढ़ाकर 90 करोड़ कर दिया गया है. यानी 5 करोड़ की बढ़ोतरी की गई है. अगर 10 टीमों की बात की जाए तो कुल 50 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी होगी. हर टीम को अपने पर्स की 75 फीसदी राशि खर्च करनी होगी. अगले तीन सीजन में इसमें बढ़ोतरी जारी रहेगी. इसके बाद टीम को नीलामी के दौरान 95 करोड़ और फिर 100 करोड़ रुपए मिलेंगे.

Previous articleकृति सैनन ने शुरू की आदिपुरुष की शूटिंग; बच्चन पांडे को पूरा करने के लिए अगला: बॉलीवुड समाचार
Next articleश्री राम वन का अंतिम संस्कार भोपाल के श्मशान घाट में किया जाएगा और मृतक की अस्थियों को पेड़ों में फेंक दिया जाएगा। News18 हिंदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here