Home Himachal Pradesh कूड़ा फेंकने वाली गाड़ी से ले गए कोरोना संक्रमित का शव, नहीं...

कूड़ा फेंकने वाली गाड़ी से ले गए कोरोना संक्रमित का शव, नहीं मिली एंबुलेंस

203
0

इस घटनाक्रम पर सरकार और स्वंय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बीबीएन के प्रशासनिक अधिकारियों की क्लास लगाई है.

इस घटनाक्रम पर सरकार और स्वंय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बीबीएन के प्रशासनिक अधिकारियों की क्लास लगाई है.

Corona Patient Dead body in Tractor: नालागढ़ के एसडीएम महेंद्र पाल गुर्जर ने कहा कि मामला संज्ञान में आने के बाद जांच की जा रही है. इस संबंध में खंड चिकित्सा अधिकारी व नगर परिषद बद्दी के कार्यकारी अधिकारी को नोटिस जारी करके जबाब मांगा गया है.

बद्दी (सोलन). हिमाचल प्रदेश के सोलन (Solan) जिले में बद्दी-बरोटीवाला और नालागढ़ (बीबीएन) में कोरोना मरीजों के उपचार के लिए बनाए गए कोविड सेंटर काठा में एक बेहद शर्मनाक मामला सामने आया है. यहां पर एक कोरोना (Corona) मरीज की मौत होने के बाद उसके शव को श्मशान घाट तक पहुंचाने के लिए कोई एंबुलेंस (Ambulance) या गाड़ी उपलब्ध नहीं हो पाई. हैरानी की बात है कि कोरोना मृतक के शव को ट्रॉली में डालकर अंतिम संस्कार के लिए बद्दी श्मशान घाट (Graveyard) पहुंचाया गया. इस पूरे घटनाक्रम के बाद एसडीएम नालागढ़ ने बीएमओ और नगर परिषद (बद्दी) के कार्यकारी अधिकारी को नोटिस जारी कर दिया है. पता चला है कि इस घटनाक्रम पर सरकार और स्वंय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बीबीएन के प्रशासनिक अधिकारियों की क्लास लगाई है.

कोरोना मृतक के शव को ट्रॉली में डालकर अंतिम संस्कार के लिए बद्दी श्मशानघाट (Graveyard) पहुंचाया गया.

सोलन का था मरीजजानकारी के अनुसार, अर्की के एक 54 वर्षीय व्यक्ति की काठा अस्पताल में कोरोना से मौत हुई है. इस व्यक्ति की तबीयत खराब होने पर अर्की से काठा अस्पताल से शिफ्ट किया गया था, जहां पर उसने मंगलवार रात को दम तोड़ दिया. निधन के बाद नगर परिषद बद्दी को शव सौंपा गया. लेकिन, नप ने शव वाहन अन्य वाहन न भेजकर कूड़ा फेंकने वाली ट्रॉली में डाल शीतलपुर श्मशान घाट तक लाया गया. परिजनों ने जताया रोष परिजनों ने आरोप लगाते हुए रोष प्रकट किया है. परिजनों का कहना है कि इस तरह की लापरवाही करने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए. ट्रैक्टर में शव ले जाने की भयानक तस्वीर से प्रदेश सरकार और प्रशासन द्वारा किए गए पुख्ता इंतजामों की पोल खोलते हुए एक बड़ी लापरवाही है. इससे साफ होता है कि बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ में कोरोना से निपटने के लिए स्वास्थ्य व प्रशासन के इंतजाम कहीं न कहीं दम तोड़ते और फेल होते नजर आ रहे हैं.

यूट्यूब वीडियो

क्या कहते हैं अधिकारी बद्दी नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी रणवीर सिंह का कहना है कि नगर परिषद के पास मृतक के शव के अंतिम संस्कार का जिम्मा था, जिसके लिए व्यवस्था कर दी गई थी. ट्रैक्टर में मृतक के शव को क्यों लाया गया, इसकी जानकारी उन्हें नहीं है. वहीं, नालागढ़ के एसडीएम महेंद्र पाल गुर्जर ने कहा कि मामला संज्ञान में आने के बाद जांच की जा रही है. इस संबंध में खंड चिकित्सा अधिकारी व नगर परिषद बद्दी के कार्यकारी अधिकारी को नोटिस जारी करके जबाब मांगा गया है.




Previous articleडब्ल्यूएचओ का कहना है कि 17 देशों में अब तक कोरोना वायरस ‘इंडियन स्ट्रेन’ पाया जाता है
Next articleवर्ल्ड कप जीतने के बाद भी 5 साल टीम से बाहर रहे थे नेहरा, ऐसे हुई थी वापसी-Ashish Nehra Turns 42 was out of team for 5 years After 2011 ODI World cup Victory

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here