Home Uttar Pradesh कोरोना महामारी में यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था ध्वस्त, मरीज के परिजन हाथों...

कोरोना महामारी में यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था ध्वस्त, मरीज के परिजन हाथों में ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर चलने हुये मजबूर

173
0
कोरोना महामारी में यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था ध्वस्त, मरीज के परिजन हाथों में ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर  चलने हुये मजबूर

 तस्वीर सरकारी मेडिकल कॉलेज, शाहजहाँपुर की है।  - वंश भास्कर

तस्वीर सरकारी मेडिकल कॉलेज, शाहजहाँपुर की है।

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर जिले में ऑक्सीजन से भरा एक भारी सिलेंडर हाथ में है। मरीज स्ट्रेचर पर लेटा है। रोगी के स्ट्रेचर को मेडिकल कॉलेज से बाहर खींच लिया जाता है। शाहजहांपुर के सरकारी मेडिकल कॉलेज से एक दिल दहला देने वाली तस्वीर सामने आई है। टेमरदार ने कॉलेज प्रशासन पर ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं कराने का आरोप लगाया है। सीएमओ भरपूर ऑक्सीजन देने की बात कर रहे हैं।

सूत्रों के मुताबिक, हरदोई जिले के शाहाबाद के रहने वाले श्याम सुंदर तब बीमार थे, जब उनके भाई संजीव बंगा को बेहतर इलाज के लिए शाहजहाँपुर राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है क्योंकि रोगी लगभग 30 किमी की यात्रा करता है। बदले में, केयरटेकर अपने स्वयं के ऑक्सीजन से भरे निजी सिलेंडर लेकर आया। 19 अप्रैल को मरीज को भर्ती किया गया था। हालांकि, उसके बाद मरीज ऑक्सीजन से बाहर भाग गया।

अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन देने से इनकार कर दिया
मरीज के भाई बंगा ने कहा कि मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने उन्हें ऑक्सीजन से बाहर निकलने के बाद ऑक्सीजन का प्रबंध करने के लिए कहा था। लेकिन कार को पलटने की बात कहते हुए ऑक्सीजन ने ऑक्सीजन देने से मना कर दिया। मरीज इलाज के लिए आया था। इसलिए किसी ने किसी से शिकायत नहीं की। उसके बाद तीन निजी ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था करनी पड़ी। तब डॉक्टरों ने मरीज को बरेली रेफर कर दिया। सीएमओ डॉ। एसपी गौतम का कहना है कि भरपूर ऑक्सीजन है। किसी भी मरीज को ऑक्सीजन खरीदने की जरूरत नहीं है। जरूरतमंद मरीजों पर ऑक्सीजन का इस्तेमाल किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here