Home Rajasthan गुप्त नोरात्रि 2021 अष्टमी इबादत मां बगलामुखी: गुप्त नोरात्रि

गुप्त नोरात्रि 2021 अष्टमी इबादत मां बगलामुखी: गुप्त नोरात्रि

192
0

गुप्त नूरात्रि 2021 अष्टमी इबादत मां बगलमुखी: आज गुप्त को नूरात्रि की अष्टमी है। आज श्रद्धालु बगलामुखी की पूजा कर रहे हैं। आठवीं महाविद्या बगलामुखी है, माता को माता पिताम्ब्रा भी कहा जाता है। मां बगलामुखी को पीला रंग बेहद पसंद है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार मां बगलामुखी की पूजा करने से शत्रु आपको नुकसान नहीं पहुंचाते और आपकी हमेशा हार होती है। मां युद्ध में विजय दिलाने वाली और वाणी को शक्ति देने वाली देवी हैं। आज मां की पूजा करने से जीवन से सभी प्रकार की चिंताएं दूर हो जाती हैं और जीवन सकारात्मकता से भर जाता है।

आगे क्या होगा:
Har हरिन बेग्लामीखी सरू दशातनं वख्म मखम पद्मस्तभय।
जिसमें पूरा बौद्ध धर्म ओमाहा का अभयारण्य है।

यह भी पढ़ें: राखा बंधन 2021: राखा बंधन कब है? जानिए राखी बांधने की तारीख और समय

माँ बगलामोखी की कहानी:

पौराणिक कथा के अनुसार एक बार सतयुग में ब्रह्मांडीय तूफान ने कहर बरपाया था, जिसने पूरी दुनिया को तबाह कर दिया था। इससे चारों ओर चीख-पुकार मच जाती है और कई लोग मुसीबत में पड़ जाते हैं और दुनिया की रक्षा करना असंभव हो जाता है। तूफान सब कुछ नष्ट करने के लिए आगे बढ़ रहा था, जिससे भगवान विष्णु परेशान हो गए।

इस समस्या का कोई समाधान न पाकर वह भगवान शिव का स्मरण करने लगा। तब भगवान शिव ने उनसे कहा कि इस प्रलय को शक्ति के अलावा कोई नहीं रोक सकता, इसलिए आपको इसकी शरण लेनी चाहिए। तब भगवान विष्णु हरिदार सरवर के पास पहुंचे और घोर तपस्या की। भगवान विष्णु ने महात्री पुरसंड्रारी को गर्म करके प्रसन्न किया और देवी शक्ति ने उनकी साधना से प्रसन्न किया और सौराष्ट्र क्षेत्र के हरिदारा झील में जलक्रीड़ा खेलते हुए देवी महापिता के हृदय से स्वर्गीय तेज उत्पन्न हुआ।

उस समय चौधरी की रात को देवी बगलमुखी के रूप में प्रकट हुईं। त्रिलोक्य स्तम्भिनी महावाद्य भगती बगलमूकी ने विष्णु को प्रसन्न किया और विष्णु को वांछित आशीर्वाद दिया और तब ब्रह्मांड के विनाश को रोका जा सकता था। बगलामुखी देवी को बीर रति भी कहा जाता है, क्योंकि देवी स्वयं ब्रह्मस्त्रोपिनी हैं। उनके शिव को अकक्तर मेहरुद्र कहा जाता है, इसलिए देवी सदा विद्या हैं। तांत्रिक उन्हें लिंग की देवी मानते हैं। परिवार के लिए, देवी वह है जो सभी प्रकार की शंकाओं और शंकाओं को दूर करती है। (डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई जानकारी और डेटा सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 उनकी पुष्टि नहीं करता है। कृपया उन्हें लागू करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)

पढ़ते रहिये हिंदी समाचार अधिक ऑनलाइन देखें See लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी वेबसाइट। देश-विदेश और अपने राज्य, बॉलीवुड, खेल जगत, व्यवसाय के बारे में जानें हिन्दी में समाचार.

Previous articleविदिशा हादसे को लेकर सांसद शाह का अजीबो-गरीब बयान, एफआईआर दर्ज नहीं हुई, फिर भी बोले- विदिशा को होगी फांसी मप्र समाचार वन मंत्री विजय शाह का दुखद हादसे पर विदेशी बयान – News18
Next articleपटना में जदयू की अहम बैठक आज आरसीपी सिंह और ओपीिंदर कुशवाहा आमने-सामने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here