Home Delhi दिल्ली सरकार का ऐप भी पूरा हो चुका है, मरीज आईसीयू, वैनिटी...

दिल्ली सरकार का ऐप भी पूरा हो चुका है, मरीज आईसीयू, वैनिटी लेटर के लिए भटक रहे हैं आईसीयू, वेंटिलेटर की ओर रुख करते मरीज। इंतजार 500 तक पहुंच गया है

116
0

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए डायनाक भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

नई दिल्ली5 घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना

दिल्ली में कोरोना रोगियों की तेजी से बढ़ती संख्या के साथ, अस्पतालों में आईसीयू और वेंटिलेटर की प्रतीक्षा 500 तक पहुंच गई है। दिल्ली के प्रमुख अस्पतालों में, जिनमें सर गंगा राम अस्पताल, मैक्स सैंकेट, सफदरजंग, लोकनायक, जीटीबी शामिल हैं, में आईसीयू और वेंटिलेटर की समस्या है। उन्हें केवल अस्पताल पहुंचने के लिए आश्वस्त किया जा रहा है। मरीजों की मानें तो सुबह से शाम तक अस्पताल के चक्कर लगाने के बाद भी आईसीयू की सुविधा उपलब्ध नहीं है।

सभी जगह केवल दूसरे अस्पतालों में जाने की बात कही जा रही है। कुलदीप, जो मंगलवार सुबह से अपनी माँ के साथ घूम रहा था, उसने तुरंत अपनी माँ को बताया। केवल एक वेंटिलेटर की जरूरत है। द्वारका के कई अस्पतालों का दौरा करने के बाद भी, देर शाम तक मेरठ तक कोई जगह नहीं ली गई।

ऐप में केवल 7 आईसीयू खाली हैं

दिल्ली सरकार के ऐप के अनुसार, वेंटिलेटर के साथ दिल्ली में केवल 1449 आईसीयू बेड हैं। इनमें से केवल 7 शाम 7 बजे तक खाली थे जबकि 1442 बेड पूरी तरह से भरे हुए थे। दिल्ली में 3136 आईसीयू बेड हैं जिनमें वेंटिलेटर नहीं हैं। इनमें से केवल 23 बेड खाली हैं, जबकि 3113 बेड पूरी तरह से भरे हुए हैं। प्रशासन के अनुसार, दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे मरीजों की संख्या के साथ अस्पताल के बेड घटते जा रहे हैं। अगर आने वाले दिनों में मरीजों की संख्या कम नहीं हुई तो हालत और खराब हो सकती है।

और भी खबर है …
Previous articleपति अक्सर देर से घर आता था, इसलिए झगड़ा हुआ, उसने पति को सबक सिखाने के लिए भांग को अपनी कार में रख लिया, लेकिन पत्नी फंस गई। पति अक्सर देर से घर आता था, इसलिए झगड़े होते थे। उसे सबक सिखाने के लिए उसने अपनी गाड़ी में भांग डाल दी और फंस गया
Next articleतिलक नगर कॉलोनी में कोरोना के मरीजों के लिए 100 बिस्तर वाला प्रीवेड हेल्थ सेंटर शुरू किया तिलक नगर कॉलोनी में कोरोना के रोगियों के लिए 100 बिस्तरों वाला प्रतिष्ठित स्वास्थ्य केंद्र शुरू किया गया। ऑक्सीजन 60 बेड पर उपलब्ध होगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here