Home Delhi पानी और हवा से नुकसान का आरोप: ग्रामीणों ने बूचड़खाने का विरोध...

पानी और हवा से नुकसान का आरोप: ग्रामीणों ने बूचड़खाने का विरोध किया

74
0

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए डायनाक भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

फरीदाबाद4 घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
अधिकारी ने कहा कि आधुनिक तरीके से - वंश भास्कर

अधिकारी ने कहा कि आधुनिक तरीके से

फरीदाबाद के जाकुपुर गाँव के पास एक बूचड़खाने के निर्माण का ग्रामीणों ने विरोध किया। ग्रामीणों का मानना ​​है कि गांव के पास एक बूचड़खाने का निर्माण ग्रामीणों को बीमार कर देगा और हवा को प्रदूषित करेगा। ग्रामीणों ने कहा कि यह मामला अदालत में लंबित था, बावजूद इसके अधिकारी मनमानी कर रहे थे और जबरन यहां कत्लखानों का निर्माण कर रहे थे।

बता दें कि केंद्र सरकार के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों के अनुसार जकूपुर गांव में एक आधुनिक बूचड़खाने का निर्माण किया जाना है। लेकिन ग्रामीण इसके विरोध में हैं। ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने ब्लॉक अधिकारी से डीसी से अपील की है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। यह भी बताया गया कि मामला न्यायालय में लंबित है। फैसला 3 मई को होने वाला है। लेकिन इससे पहले, अधिकारी यहां एक बूचड़खाने का निर्माण करना चाहते हैं।

कॉर्पोरेशन एक्सईएनओपी कार्डम ने कहा कि यह आधुनिक कत्लखाना नहीं है, बल्कि यह कत्लखाना बनाया जा रहा है। यह काम सरकार के इशारे पर किया जा रहा है। इससे गंदगी नहीं फैलेगी और हवा पानी को खराब नहीं करेगी। बल्कि, यह यहां के लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करेगा। मौके पर मौजूद पुलिस ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत कराया।

और भी खबर है …

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here