Home Bihar बिहार सरकार का बड़ा फैसला, आश्रितों को मिलेगा रोजगार और साथ ही...

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, आश्रितों को मिलेगा रोजगार और साथ ही स्वास्थ्यकर्मियों की मौत पर पेंशन

200
0

पटना में 24 घंटे में अधिकतम 2444 नए मरीज पाए गए।  (सिफर फोटो)

पटना में 24 घंटे में अधिकतम 2444 नए मरीज पाए गए। (सिफर फोटो)

डॉक्टरों की मौत पर स्वास्थ्य कर्मचारियों और उनके आश्रितों को नौकरी देने के बिहार सरकार के फैसले को ऐतिहासिक बताया जा रहा है।

पटना इस बढ़ते कोरोना वायरस संकट के बीच, बिहार सरकार ने एक कैबिनेट बैठक बुलाई। बैठक में कोरोना पीड़ितों की सेवा करने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और डॉक्टरों के हित में एक बड़ा निर्णय लिया गया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक कैबिनेट बैठक बुलाई और निर्णय लिया कि अगर कोविद 19 के इलाज में लगे एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता और डॉक्टर की मृत्यु हो जाती है, तो परिवार को एक विशेष पेंशन दी जाएगी और आश्रितों को नौकरी दी जाएगी। निर्णय के अनुसार, डॉक्टरों या स्वास्थ्य कर्मियों की मृत्यु पर, उनके पूरे कार्यकाल का भुगतान उनके वेतन के बराबर किया जाएगा। इसे विशेष पारिवारिक पेंशन कहा जाता है। सरकार ने फैसला एक साल के लिए बढ़ा दिया है। पारिवारिक पेंशन पर यह निर्णय पिछले साल ही लिया गया था। कैबिनेट की बैठक में लिए गए निर्णय को स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और डॉक्टरों का मनोबल बढ़ाने वाला सबसे बड़ा निर्णय कहा जाता है। आश्रितों को रोजगार देने वाला बिहार पहला राज्य बना स्वास्थ्य कर्मचारियों और डॉक्टरों की मौत के बाद, बिहार सरकार द्वारा आश्रितों को रोजगार देने के फैसले को ऐतिहासिक बताया जा रहा है। बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट किया कि बिहार 2020 में कोरोना के समय स्वास्थ्यकर्मियों को अतिरिक्त महीने का वेतन देने वाला पहला राज्य था और अब यह वह राज्य बन गया है, जहां से कोरोना मृत्यु पर निर्भर है, जो परिवार को पेंशन और रोजगार प्रदान करेगा। यह निर्णय लाखों श्रमिकों को मानसिक शक्ति देगा और कोरोना को हराने के सरकार के अभियान को और मजबूत करेगा। एक दर्जन से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारियों की मौत हो गई हैकोरोना की दूसरी लहर ने कई स्वास्थ्यकर्मियों की जान ले ली। मनुष्यों के लिए, कोरोना संक्रमणों से एक दर्जन से अधिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता मारे गए हैं। ऐसे में सरकार का यह फैसला और मजबूत होने वाला है। हाल ही में, कोरोना संक्रमण के कारण बिहार में 15853 नए सकारात्मक रोगी पाए गए, जिन्होंने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए। पटना में 24 घंटे में अधिकतम 2444 नए मरीज पाए गए।




Previous article18 से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण आज से शुरू नहीं होगा
Next articleIPL 2021: मैच हारने के बाद आउट करने वाले गेंदबाज के पास पहुंचे विराट कोहली, वीडियो ने जीता दिल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here