Home Jeewan Mantra बुद्धि माह 2021 वेसाक मास पर्व व्रत उपवास (उपवास) शुभ मुहर्रम...

बुद्धि माह 2021 वेसाक मास पर्व व्रत उपवास (उपवास) शुभ मुहर्रम तिथि | इस माह में 4 प्रमुख व्रत और त्यौहार, सुख और समृद्धि के संयोग शुक्रवार को आएंगे

233
0

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए डायनाक भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

20 घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • इस महीने आने वाले त्योहारों पर स्नान और दान करने से कई गुना बेहतर परिणाम मिलते हैं

हिंदी कैलेंडर का दूसरा महीना बुधवार 28 अप्रैल से शुरू हो रहा है। इस विष्णु मास के देवता भगवान विष्णु हैं। इसलिए इस महीने में भगवान विष्णु की विशेष पूजा की जाती है। यह महीना 26 मई तक जारी रहेगा। इस महीने के दौरान पानी, फल, कपड़े, जूते और अनाज दान करने की भी परंपरा है। पुराणों में कहा गया है कि वेसाक में यात्रा घुसल करने से सभी प्रकार के पाप दूर होते हैं। लेकिन महामारी के कारण, घर पर गंगा जल में स्नान करने से तीर्थ यात्रा का लाभ मिल सकता है। इस महीने आने वाले त्योहारों पर स्नान और दान करने से कई गुना बेहतर परिणाम मिलते हैं।

शुक्रवार, 30 अप्रैल को गणेश चटर्जी हैं। यह व्रत गणेश के लिए मनाया जाता है। सूर्यास्त के बाद गणेश और चंद्र की पूजा की जाती है

यह शुक्रवार 7 मई को वर्थिनी एकेडमी है। इस विष्णु भगवान की पूजा और उपवास करें।

सतवाई 11 मई मंगलवार को है। यह तिथि पितरों को समर्पित होनी चाहिए। मंगलवार को अमावसिया होना भौमसिया के लिए एक बड़ा अवसर बन रहा है।

14 मई, शुक्रवार को सूर्य वृष राशि में प्रवेश करेगा। इस दिन वरिशा संक्रांति उत्सव मनाया जाएगा।

अक्षय तृतीया शुक्रवार 14 मई को है। इस तिथि पर भगवान परशुराम प्रकट हुए। इस दिन मुटकी का दान करें, जो आपको गर्मी से बचाता है।

मंगलवार, 18 मई को गंगा सप्तमी है। उसी दिन, जानु ऋषि ने देवी गंगा को उनके कानों से मुक्त किया।

20 मई, गुरुवार को जानकी जयंती है। इस दिन माता को सीता का व्रत करना चाहिए।

यह शनिवार 22 मई को मोहनी एकादशी है। इस तिथि पर भगवान विष्णु और उनके अवतार की पूजा करें। उपवास।

बुधवार, 26 मई को भगवद गीता और वैशाख पूर्णिमा का जन्मदिन है। पूर्णिमा के दिन घर पर भगवान सत्यनारायण की कथा पढ़ें।

और भी खबर है …
Previous articleमहीना خ महीना} 2021 स्काइप ओल्ड के अनुसार, मास व्रत व्रत (उपवास) के महीने के नियम [What to Do and What Not to Do] | पद्म प्राण कहते हैं कि विशाखापत्तनम में सूर्योदय से पहले स्नान करना उतना ही पुण्य है जितना कि ऐशो मई।
Next articleगुरुवार, 29 अप्रैल, आज का राशिफल के लिए टैरो राशिफल, ग्रोवर राशिफल, हिंदी में दैनिक राइफल, आज का टैरो राशिफल | मेष राशि के लोगों को गुरुवार को तनाव से बचना चाहिए, मेष राशि के लोगों की परेशानी बढ़ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here