Home Rajasthan राजस्थान भाजपा अध्यक्ष का अशोक गहलोत पर हमला’: मुख्यमंत्री ने बनाए रखा...

राजस्थान भाजपा अध्यक्ष का अशोक गहलोत पर हमला’: मुख्यमंत्री ने बनाए रखा भय का माहौल

161
0

राजस्थान बीजेपी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बच्चों से कोरोना संक्रमण फैलने और बच्चों की मौत पर चिंता जाहिर की है (फाइल फोटो).

राजस्थान बीजेपी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बच्चों से कोरोना संक्रमण फैलने और बच्चों की मौत पर चिंता जताई है (फाइल फोटो)

राजस्थान भाजपा के मुख्यमंत्री सतीश पूनिया ने बुधवार को ट्वीट किया, ”हम बच्चों को नहीं बचा पाएंगे.” उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री न केवल अपनी गैरजिम्मेदारी साबित कर रहे हैं बल्कि राज्य में डर भी पैदा कर रहे हैं. ‘

जयपुर बीजेपी ने कोरोना संक्रमण को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि वह केंद्र सरकार के खिलाफ झूठे और भ्रामक आरोप लगा रहे हैं और बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की संभावना के बारे में बयान देकर डर का माहौल पैदा कर रहे हैं. पुनिया ने बुधवार को ट्वीट किया, ”हम बच्चों को नहीं बचा पाएंगे.” उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री न केवल अपनी गैरजिम्मेदारी साबित कर रहे हैं बल्कि राज्य में भय का माहौल भी पैदा कर रहे हैं. पुनिया ने कहा कि देश भर के डॉक्टर बच्चों में संक्रमण के घातक नहीं होने की बात कर रहे थे और राजस्थान के लोगों को उम्मीद थी कि तीसरी लहर नहीं आई है। लेकिन आप भी आएं तो मुख्यमंत्री को बताएं कि उन्होंने क्या तैयार किया है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री ने एक भरोसेमंद कमांडर की तरह लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने का आश्वासन दिया होता, तो इससे लोगों का मनोबल बढ़ता, लेकिन उनके बयानों से पता चलता है कि उन्होंने कोरोना के प्रबंधन और प्रबंधन की इच्छा खो दी है. . उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का यह बयान कांग्रेस के टूलकिट संदर्भ की ओर इशारा कर रहा है. पुनिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रभावी नेतृत्व में भारत कोरोना के खिलाफ कड़ा संघर्ष कर रहा है और जल्द ही कोरोना को हरा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार लगातार सभी राज्यों की मदद कर रही है जबकि मुख्यमंत्री गहलोत अपनी विफलताओं, मौतों और मरीज के आंकड़ों को छिपाने और राज्य के लोगों को गुमराह करने के लिए केंद्र पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. (भाषा इनपुट)




Previous articleसावधान रहे! इस्तेमाल किए गए पीपीई किट को गर्म पानी में धोकर बाजार में बेचा जा रहा है!
Next articleएएसपी लॉकडाउन, लहराती पिस्टल का निरीक्षण करने को तैयार पुलिस उसकी शिनाख्त नहीं कर पाई और फिर…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here