Home Bihar लालू प्रसाद यादव की जमानत से बिहार में बदलेगी सियासी तस्वीर

लालू प्रसाद यादव की जमानत से बिहार में बदलेगी सियासी तस्वीर

22
0

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत दिए जाने के बाद बिहार की राजनीति में उथल-पुथल तेज हो गई है।

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत दिए जाने के बाद बिहार की राजनीति में उथल-पुथल तेज हो गई है।

बिहार की राजनीति: झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा दुमका टेरी मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को जमानत दिए जाने के बाद बिहार में विपक्ष की आवाज उठने लगी है, जबकि सरकार को alu लालू के झटके ’का डर सताने लगा है।

पटना बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव, जिन्हें चार बहु ​​मिलियन चारा घोटाला मामलों में दोषी ठहराया गया था, को झारखंड उच्च न्यायालय ने शनिवार को दुमका कोषागार मामले में जमानत दे दी। इसी समय, बिहार की राजनीति ने बदतर स्थिति के लिए एक मोड़ लिया। विपक्ष के उत्साह में तेजी आई, जबकि सरकार को लालू के झटके का डर सताने लगा। एनडीए ने जिस तरह से जेल में रहते हुए सरकार को हिलाने की कोशिश की, उसे भुलाया नहीं गया। इस वजह से जब लालू जमानत पर बाहर आते हैं तो वह इसे नोटिस करते हैं। क्योंकि वह जानता है कि सत्ता की सीट के आवश्यक संकेतों में बहुत अंतर नहीं है।

जब जेल में रहते हुए राजनीतिक लालू प्रसाद सरकार को अस्थिर कर सकते हैं, तो वे समय-समय पर सरकार को जुटाने और तोड़फोड़ करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। इस राजनीति की वजह से लालू अभी भी सत्ताधारी पार्टी के निशाने पर हैं। साथ ही वे विपक्षी राजनीति के केंद्र हैं। कांग्रेस और वाम दलों सहित विपक्षी दलों की राजनीति लालू की दया पर है।

लालू के आने से विपक्ष एकजुट होगा

पढ़ते रहिये


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here