Home Delhi सुप्रीम कोर्ट ने कहा- अगर आप दिल्ली की सीमा पर बसे एक...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- अगर आप दिल्ली की सीमा पर बसे एक गांव को बसाना चाहते हैं, तो उसे बसाएं, दूसरों के जीवन को बाधित न करें। | सुप्रीम कोर्ट ने कहा- अगर आप दिल्ली की सीमा पर बसे किसी गांव को बसाना चाहते हैं, तो उसे बसाएं, दूसरों की जिंदगी में खलल न डालें।

99
0

विज्ञापनों द्वारा घोषित? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए डायनाक भास्कर ऐप इंस्टॉल करें

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
गाजीपुर बॉर्डर से पुलिस ने की फायरिंग  - वंश भास्कर

गाजीपुर बॉर्डर से पुलिस ने की फायरिंग

  • केंद्र के अनुरोध पर सुनवाई स्थगित कर दी गई

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को दिल्ली बॉर्डर ब्लॉक के कारण किसानों के आंदोलन के कारण लोगों को हो रही कठिनाइयों पर कड़ा रुख अपनाया। जस्टिस संजय किशन कोहल और हेमंत गुप्ता की एक बेंच ने कहा, “लोग लंबे समय से सड़कों पर बैठे हैं। अगर कोई वहां बसना चाहता है, तो उसे सुलझा ले, लेकिन दूसरों के जीवन में खलल न डालें।”

सरकार को भी इसके बारे में कुछ करना चाहिए। केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तुत सॉलिसिटर जनरल तोशेर मेहता ने कहा, “सरकार इस विवाद को सुलझाने की कोशिश कर रही है।” कोर्ट ने केंद्र के अनुरोध पर सुनवाई को 7 मई तक के लिए स्थगित कर दिया। दरअसल, नोएडा निवासी मोनिका अग्रवाल ने सुप्रीम कोर्ट में दायर अपनी याचिका में कहा है कि वह मार्केटिंग का काम करती हैं।

काम की वजह से उन्हें बार-बार नोएडा से दिल्ली आना पड़ा। पहले वह नोएडा से 20 मिनट में दिल्ली पहुंच सकती थी, लेकिन किसानों के विरोध के कारण गाजीपुर सीमा के पास एक सड़क ब्लॉक है। अभी दिल्ली पहुँचने में 2 घंटे लगते हैं। दिल्ली की संघू सीमा और टेकरी सीमा पर स्थिति समान है।

और भी खबर है …

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here