Home Himachal Pradesh हिमाचल की इन प्रमुख नदियों में भी होगा पूर्व CM वीरभद्र सिंह...

हिमाचल की इन प्रमुख नदियों में भी होगा पूर्व CM वीरभद्र सिंह की अस्थियों का विसर्जन-The ashes of former CM Virbhadra Singh will also be immersed in these major rivers of Himachal hrrm– News18 Hindi

130
0

शिमला. हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) की अस्थियों को हरिद्वार के साथ-साथ हिमाचल की प्रमुख नदियों में भी विसर्जित किया जाएगा. 17 जुलाई को हरिद्वार में अस्थि विसर्जन होगा. 18 जुलाई को शुद्धि होगी. इस तरह की एक योजना बनाई गई है, जिस पर सोमवार तक निर्णय लिया जाएगा. प्रदेश में अस्थि कलश को लेकर कांग्रेस पार्टी हर ब्लॉक तक पहुंचेगी, ताकि वहां पर लोग अपने नेता को श्रद्धांजलि दे सकें. शनिवार को उनके दाह संस्कार (Cremation) के बाद समूचे विधानसभा क्षेत्र और रामपुर शहर में सन्नाटा पसर गया था.

जानकारी के अनुसार हरिद्वार में अस्थियों का विसर्जन 17 जुलाई को किया जाएगा. परिवार के सदस्य हरिद्वार में अस्थि विसर्जन करेंगे. वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य सिंह सहित कुछ सदस्य हरिद्वार में अस्थि विसर्जन के लिए जाएंगे. बता दें कि छह बार हिमाचल के मुख्यमंत्री रहने वाले वीरभद्र सिंह ने कई साल तक प्रदेश के लाखों लोगों के दिलों पर राज किया. प्रदेश भर में लोग उन्हें प्यार करते हैं. यही वजह है कि उनके पार्थिव देह के अंतिम दर्शन करने के लिए प्रदेश भर से लोग शिमला और रामपुर पहुंचे थे. इसलिए परिवार के सदस्यों और पार्टी ने निर्णय लिया है कि अस्थी विसर्जन कार्यक्रम को ब्लाक स्तर पर आयोजित किया जाएगा.

15 जुलाई को रामपुर के पदम पैलेस से अस्थियों को सभी ब्लाकों के लिए डिस्पैच किया जाएगा. 16 को यह अस्थियां ब्लॉक स्तर पर पहुंच जाएगी. ब्लॉक अध्यक्षों की इसके लिए बाकायदा डयूटियां लगाई जा रही है. 17 जुलाई को ब्लाक कांग्रेस कार्यालयों से अस्थी विसर्जन स्थल तक लोग जाएंगे. अस्थी विसर्जन कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी, प्रदेश के आम लोगों के अलावा दूसरे राजनीतिक दलों के लोगों को भी बुलाया जाएगा.

पदम पैलेस में शुद्धी कार्यक्रम रखा गया

18 जुलाई को रामपुर स्थित पदम पैलेस में शुद्धी कार्यक्रम रखा गया है. पहले कहा जा रहा था कि वीरभद्र ङ्क्षसह की अस्थियों को तांदी संगम में प्रवाहित किया जाएगा. अब हरिद्वार सहित सभी ब्लाकों में अस्थियों का विसर्जन करने का निर्णय लिया गया है. जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष (शिमला ग्रामीण) यशवंत छाजटा ने बताया कि 17 को अस्थी विसर्जन कार्यक्रम सभी ब्लॉकों में रखा गया है.

Previous articleअधिक जनसंख्या को नियंत्रित करने और ग्लोबल वार्मिंग को उलटने के लिए फ्रांसीसी लोग ‘बाल मुक्त’ जा रहे हैं | विश्व समाचार
Next articleज्योतिरादित्य सिंधिया और आरके सिंह से मिले सीएम धामी, मुद्दों पर हुई चर्चा- उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने की ज्योतिरादित्य स्कैंडिया और आरके सिंह से मुलाकात NODBK News18

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here